सार्वजनिक वितरण योजनाएं

अंत्योदय योजना

वर्ष 2001 से लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली योजना के अन्तर्गत गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन करने वाले अति निर्धन परिवारों हेतु अन्त्योदन अन्न योजना लागू की गयी है जिसके अन्तर्गत प्रत्येक परिवार/कार्ड पर प्रतिमाह 35 कि०ग्रा० खाद्यान्न, गेहूँ 25 कि०ग्रा० अथवा चावल 12 कि०ग्रा० शासन द्वारा निर्धारित उपभोक्ता मूल्य क्रमश: 2/- एवं 3/- प्रति कि०ग्रा० की दर पर उपलब्ध कराया जा रहा है।

मध्यांतर आहार योजना

वर्ष 95 से प्रदेश के प्राथमिक विद्यालयों (कक्षा 1 से 5 तक) में बच्चों को मध्यान्ह भोजन लिये जाने का निर्णय राज्य सरकार द्वारा लिया गया, जिसके अन्तर्गत पूर्वी जनपदों में से खाद्यान्न भेजा जायेगा उसमें चावल की मात्रा 2/3 तथा गेहूँ की मात्रा 1/3 रखी जाय। इसी प्रकार पश्चिमी जनपदों में गेहूँ की मात्रा 2/3 तथा चावल की मात्रा 1/3 की होगी। उक्त खाद्यान्न वर्ष के 10 माहों (मई तथा जून को छोड़कर) में प्रत्येक छात्र को 100 ग्राम प्रतिदिन अर्थात प्रति माह 3 कि०ग्रा० की दर नि:शुल्क उपलब्ध कराया जाता है।

बी०पी० एल० योजना

लक्षित सार्वजनिक वितरण प्रणाली के अन्तर्गत वर्ष 1997 से गरीबी रेखा के नीचे जीवन यापन करने वाले परिवरों हेतु योजना लागू की गयी जिसके अन्तर्गत प्रत्येक परिवार/ कार्ड पर प्रतिमाह 35 कि०ग्रा० खाद्यान्‍न अर्थात 23 कि०ग्रा० गेहूँ एवं 12 कि०ग्रा० चावल प्रतिमाह शासन द्वारा निर्धारित मूल्य पर उपलब्ध कराया जाता है। 4.65 प्रति कि०ग्रा० गेहूँ, चावल रू. 6.15 प्रति कि०ग्रा० की दर से उपलब्ध कराया जा रहा है।